PM मोदी चार देशों की यात्रा पर रवाना प्रथम चरण में पहुंचेगे जर्मनी

PM मोदी चार देशों की यात्रा पर रवाना प्रथम चरण में पहुंचेगे जर्मनी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चार देशों जर्मनी, स्पेन, रूस और फ्रांस की 6 दिवसीय यात्रा पर रवाना हो गए। उनकी इस यात्रा का उद्देश्य चारों देशों के साथ आर्थिक संबंध और निवेश को बढ़ाना है।

इस दौरान वह चांसलर एंजेला मार्केल से बातचीत करेंगे और दोनों देशों के सामरिक संबंधों को नये स्तर पर ले जाने के साथ कारोबार संबंधों को मजबूत बनाने पर चर्चा करेंगे। पिछले दो सालों के दौरान मोदी की यह जर्मनी की दूसरी यात्रा होगी। इससे पहले वे अप्रैल 2015 में जर्मनी गए थे। इसके बाद मर्केल उसी साल अक्तूबर में भारत आई थी।

30 मई को मोदी और मर्केल के बीच अंतर सरकारी मंच की बैठक होगी। इस दौरान दोनों नेताओं के बीच क्षेत्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय महत्व के विषयों पर चर्चा होगी। मोदी 31 मई को स्पेन पहुंचेंगे जहां उनका मुख्य ध्यान आधारभूत संरचना और उर्जा क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर होगा। मोदी 31 मई को रूस पहुंचेंगे जहां उनका सेंट पीटर्सबर्ग इंटरनेशनल इकोनामिक फोरम में हिस्सा लेने का कार्यक्रम है। एक जून को मोदी और पुतिन के बीच द्विपक्षीय बैठक होगी। यह पहला मौका है जब द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन मास्को से बाहर हो रहा है। दोनों देशों के बीच सामरिक संबंध है और यह साल 2000 से हैं। रूस एकमात्र ऐसा देश है जिसके साथ भारत की सालाना बैठक होती है।

इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच कुछ सहमति पत्र पर भी हस्ताक्षर हो सकते हैं। इस बैठक की पृष्ठभूमि में पीएम मोदी की रूस के राष्ट्रपति ब्लादीमिर पुतिन से बातचीत होने और द्विपक्षीय संबंधों के विविध आयामों पर चर्चा होने की एवं उसे बढ़ावा देने के रास्ते तलाशने की उम्मीद है। बातचीत के दौरान कारोबार, निवेश, रक्षा और परमाणु सहयोग के क्षेत्र में भी चर्चा होने की उम्मीद है। 2 जून को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी फ्रांस पहुंचेंगे। उनका फ्रांस के नवनियुक्त राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों से मिलने का कार्यक्रम है।


Leave a comment